Love Hostel Movie Review: विक्रांत मैसी और सान्या की एक डार्क लव स्टोरी और एक इमोशनलेस किलर बॉबी देओल

Love Hostel Movie Review: विक्रांत मैसी और सान्या की एक डार्क लव स्टोरी और एक इमोशनलेस किलर बॉबी देओल

Spread the love
What’s your Reaction?
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0
+1
0

ZEE5 अपनी रोमांटिक थ्रिलर फिल्म लव हॉस्टल 2022 ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्म रिलीज कर दिया है और आज हम बॉबी देओल, विक्रांत मैसी और सान्या मल्होत्रा ​​ की फिल्म Love Hostel Movie Review करने जा रहे हैं फिल्म कैसी है यह जानने के लिए आप zee 5 की ओरिजिनल फिल्म रोमांटिक थ्रिलर फिल्म लव हॉस्टल 2022 का पूरा रिव्यु पढ़ सकते हैं ।

रोमांटिक थ्रिलर फिल्म के डायरेक्टर शंकर रमन और रेड चिलीज एंटरटेनमेंट और दृश्यम फिल्म्स के बैनर तले गौरी खान, मनीष मुंद्रा और गौरव वर्मा द्वारा निर्मित फिल्म Love Hostel Movie Review हम फिल्म के परफॉर्मेंस , स्टार कास्ट एक्टिंग , कहानी जैसी कई चीजों को लेकर करने जा रहे हैं । । इसमें बॉबी देओल, विक्रांत मैसी और सान्या मल्होत्रा ​​मुख्य भूमिकाओं में हैं। फिल्म ZEE5 पर देखने के लिए अवेलेबल है ।

Love Hostel Movie

लव हॉस्टल एक ऐसी प्रेम कहानी है जिसमें नफरत की जीत की सबसे बड़ी संभावना होती है। एक खाप पंचायत शासित क्षेत्र में, सदियों पुरानी सामाजिक संहिताओं के खिलाफ विद्रोह सबसे बड़ा अपराध है जो एक युवा कर सकता है। कोई भी अपराध उतना खतरनाक नहीं है जितना कि एक लड़की दूसरे धर्म के पुरुष से शादी करने के अपने अधिकार का दावा करती है।

लव हॉस्टल एक जबरदस्त साहसी फिल्म है जो विशेष रूप से उल्लेखनीय है क्योंकि यह उस लड़ाई को  दिखाता है  जिसमें दो  प्यार करने वाले पूजा के साथ पूरी जिंदगी बिताना चाहते हैं।  पर उनका यह रास्ता पारंपरिक बॉलीवुड  के लवबर्ड्स  की तरह  नहीं हैं जो गाते और नाचते हैं।

यदि आप  अभी भी नहीं समझ पाएगी , कि लव हॉस्टल कोई साधारण फिल्म नहीं है। यह एक विक्षिप्त समाज के बारे में अपनी चिंताओं को व्यक्त करने में पीछे नहीं है, जिसे  बदलने की  सख्त जरूरत है।

फिल्म की शुरुआत में ही एक कपल को अपनी मर्जी से भाग कर शादी करते हुए दिखाया गया है जो सोशल मीडिया पर अपनी मर्जी से किए हुए शादी के फैसले पर अपने घर वालों की सहमति चाहते हैं पर ऐसा नहीं होता क्योंकि भाड़े के हत्यारे (बॉबी देओल) डागर उन दोनों को एक पेड़ पर फांसी लगाकर मार देता है ।

उसके बाद zee5 ओरिजिनल फिल्म रोमांटिक थ्रिलर फिल्म लव हॉस्टल की कहानी शुरू होती है जहां दो प्रेमी, अहमद शौकीन (विक्रांत) और ज्योति दिलावर (सान्या) भाग जाते हैं और शादी कर लेते हैं। लेकिन ज्योति के प्रभावशाली परिवार को यह मंजूर नहीं है। वे दोनों को मारने के लिए एक भाड़े के हत्यारे (बॉबी) को किराए पर लेते हैं और पूरी फिल्म इन तीनों के आगे पीछे घूमती नजर आती है।

Love Hostel Movie Review: डायरेक्शन, म्यूजिक

लव हॉस्टल में सेट डिजाइन  एकदम रियल लाइफ  की तरह लगता है  जहां  अपनी मर्जी से भाग कर शादी किए  लोगों को   कोर्ट द्वारा  1 हफ्ते के लिए   सेफ हाउस   मैं रहने के लिए  भेजा जाता है ।  पूरी फिल्म में   डर और टेंशन तनाव को बढ़ाते हुए भयानक दृश्य  देख सकते हैं ।

फिल्म ज्यादातर  रात में सूट होने के कारण  पूरी फिल्म मैं आपको  अंधेरा , और डार्क टोन  दिखाई देगा और यह चारों ओर के अंधेरे को दिखाने में मदद करता है। जो कहानी में आपको  डर और टेंशन का माहौल  का एहसास कराने के लिए  मदद करता है  और उसके साथ ही अधिक  गन फायर और डार्क लाइट का उपयोग  किया गया है ।

फिल्म की स्क्रिप्ट लिखने और फिल्म को  बनाने के दौरान उन्होंने “दिल और दिमाग के सवालों” पर ध्यान केंद्रित किया और इस बात पर भी की “हमारा समाज क्या बन गया है, हम अपनी समस्याओं को हल करने के लिए क्या रास्ता अपनाते हैं” पर भी ध्यान केंद्रित करते हैं। फिल्म ऑनर किलिंग पर भी केंद्रित है। .

1 घंटे 40 मिनट की फिल्म में फिल्म में  सिर्फ एक ही गाना  चली आ  रखा गया है जो कि क्लिंटन सेरेजो  के द्वारा दिया गया है बहुत ही ज्यादा  सुनने में ताज़ा और अच्छा लगता है ।

Love Hostel Movie Review: स्टार परफॉर्मेंस

विक्रांत एक मुस्लिम लड़के की भूमिका निभाते हैं तो सान्या मल्होत्रा ​​ बड़े घर की  प्रभावशाली  बेटी के रूप में  अपना रोल निभाती है।   सान्या विक्रांत मैसी की केमेस्ट्री शानदार है। दोनों ही एक्टर अपने  कैरेक्टर्स को जानते हैं, पहचानते हैं ,और उन्हें अच्छी तरह से उसमें खुल जाते हैं , अपनाते हैं। और  यह  हर  गुजरते मिनट के साथ होता है क्योंकि वे पूरी पिक्चर में  अपनी जान बचाने के लिए  एक जगह से दूसरी जगह    डागर  से  बचते हुए भागते रहते हैं ।

बॉबी देओल

बॉबी देओल को क्रूर ,  पत्थर दिल , इमोशनलेस ,डागर का किरदार निभाने को मिलता है।  उनके पूरे  फिल्मी कैरियर में  उन्हें कभी भी   इस तरह का  खतरनाक  रोल  करते नहीं देखा होगा । जहां उन्हें हर समय अपने हाथों में बंदूक लेकर  अपनी मर्जी से  शादी करने वाले  लोगों के पीछे  भागते दिखाया गया है ।  जिसके कारण  बॉबी देओल  डर को पर्दे पर  जिंदा करने में कामयाब होते हैं।

और उनका यह रूप इसलिए बनाया गया है क्योंकि  उसका भाई  की मौत  का कारण भी  भाग कर शादी करने  के फैसले पर के कारण  हुई थी  और उसके बाद से ही  वह  उन लोगों के खिलाफ हो चुकी । उसकी आँखें हमेशा खून के लिए तरसती हैं और जब वह एक बारात में तीन लोगों को लापरवाही से मार देता है तो वह पलक भी नहीं झपकाता है क्योंकि वे उसे परेशान करते हैं।

दाढ़ी और गहरे चेहरे के निशान के पीछे बॉबी देओल, एक हत्यारे की भूमिका निभाते हैं जो प्रेमियों और उन सभी का पीछा करता है जो जोड़ी के लिए खड़े होने की हिम्मत करते हैं। वह एक  ऐसा कठोर  और छायादार व्यक्ति है, जो पुलिस रिकॉर्ड में मर चुका है। वह बिना रुके काम करता है और इच्छा पर मारता है।

बॉबी देओल को  बहुत ही कम  बोलते दिखाया गया है  लेकिन जब  फिल्म के आखिरी सीन में उनके पास करने के लिए बहुत सारे  बातें होती है तो  यह  डागर  के  कैरेक्टर से थोड़ा  हटकर लगता है, लेकिन यह पूरी तरह से बुरा नहीं है।

क्या है लव हॉस्टल कहानी  

पूरी तरह से प्यार में, अहमद और ज्योति ने अपना  जीवन एक साथ बिताने का विकल्प चुना है। यह जानते हुए कि उनके परिवार इसे स्वीकार नहीं करेंगे क्योंकि वे  दोनों  एक अलग धर्म से आते हैं,   और फिर दोनों एक साथ  भाग जाने और गुप्त रूप से शादी करने का फैसला करता है। यह निर्णय उन्हें खतरे में डालता है क्योंकि अब उनका शिकार डागर द्वारा किया जा रहा है, जो एक क्रूर भाड़े का हत्यारा   है, जो तब तक नहीं रुकेगा जब तक कि वह उन्हें ढूंढ़ नहीं लेता और उन्हें “सही” नहीं कर देता।

क्या अच्छा है: यह  पूरी फिल्म को एक तरह से  डार्क टोन में दिखाया गया है  और ऐसा कोई   समय नहीं होगा जहां  डर और टेंशन का माहौल मौजूद नहीं है।बॉबी देओल को क्रूर ,  पत्थर दिल , इमोशनलेस ,डागर का किरदार  निभाते देखना  बहुत ही दिलचस्प है  क्योंकि  अभी तक हमने उन्हें  कॉमेडी,एक्शन  तरक्की फिल्मों में एक्टिंग करते देखा है ।  उनके पूरे  फिल्मी कैरियर में  उन्हें कभी भी   इस तरह का  खतरनाक  रोल  करते नहीं देखा होगा ।

क्या बुरा है:  देओल को डागर के रूप में जल्दबाजी में  बिना सोचे समझे  लोगों को  जान से मारते देखना  थोड़ा अजीब लगता है  भले ही  उनका काम ही क्यों ना हो  कभी-कभी यह चीजें बिना मतलब की  लगती है।

देखें या नहीं ?: इसे देखें। आपको इस फिल्म  को ना  देखना  का कोई कारण नहीं होगा  पर  इस फिल्म को देखने का एक कारण यह हो सकता है  कि यहां  आपको बॉबी देओल का  एक नया ही  रूप   देखने मिलेगा ।

Love Hostel Movie Review : बॉटम लाइन :

zee5 ओरिजिनल्स फिल्म लव हॉस्टल  के लिए द लास्ट वर्ड  बॉटम लाइन  यही होगा कि लव हॉस्टल में  बहुत ही ज्यादा  गुस्सा , बहादुरी, और डार्क  टोन दिखाया गया है  और वह अच्छा है। आपको  बिना किसी शक के  डायरेक्टर शंकर रमन  के द्वारा बनाई गई फिल्म  लव हॉस्टल की  कहानी  को देखकर  इसे खुद अनुभव करना चाहिए और विक्रांत, सान्या और बॉबी ने अपने प्रदर्शन से इसे जीत लिया।

FOLLOW US ON

Leave a Reply